झुंड़ फ़िल्म का रिव्यु | Jhund Movie Review in Hindi 2022

झुंड़ फ़िल्म का रिव्यु | Jhund Movie Review in Hindi

4 मार्च 2022 को रिलीज होने वाली झुंड फ़िल्म एक बायोपिक है। यह मूवी विजय बरसे नाम के एक सेवानिवृत्त (रिटायर्ड) खेल प्रशिक्षक के जीवन पर आधारित है। यह नागराज पोपटराव मंजुले की बहू प्रतीक्षित मूवी है जिन्होंने मराठी सिनेमा के सारे रेकॉर्ड ब्रेक करनेवाली “सैराट” मूवी बनाई थी। इस मूवी का सबसे बड़ा आकर्षण केंद्र रहेंगे इसके लीड एक्टर “अमिताभ बच्चन“। इनके साथ सैराट फ़ेम आकाश ठोसर, रिंकू राजगुरु और खुद नागराज पोपटराव मंजुले अभिनय कर रहे है।

यह मूवी टी-सीरीज (T-Series) तांडव फिल्म्स एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड और आटपाट फिल्म्स के बैनर के नीचे भूषण कुमार, कृष्ण कुमार, राज हिरेमठ, सविता हिरेमठ, नागराज पोपटराव मंजुले, गार्गी कुलकर्णी और मीनू अरोड़ा ने प्रोड्यूस किया है।

विजय बरसे नागपुर के हिल्सोप कॉलेज में एक खेल प्रशिक्षक के तौर पे काम करते थे। कई सारे वंचित बच्चे शौक के लिये गलियों मे फुटबाल खेलते थे। उन बच्चों के लिये जो ड्रग्स और अपराध मे फसते थे उनके लिये विजय बरसे जी ने साल 2001 मे स्लम सॉकर नाम से एक गैर सरकारी संगठन / NGO की स्थापना की। उन्होंने इन गली के बच्चों को सॉकर खिलाड़ियों में बदलकर एक पूरी टीम खड़ी कर दी। रखकर उनका पुनर्वास करने में कामयाबी हासिल की।

झुंड़ फ़िल्म के पात्र और कलाकार (Jhund movie star cast)

Jhund Movie Review मे देखिये इस फ़िल्म के पात्रों के नाम और इन सभी का विवरण फ़िल्म में इनके पात्रों के नाम सहित निम्नवत है – इस मूवी को लिखते समय नागराज पोपटराव मंजुले ने विजय बरसे के रोल के लिये सिर्फ और सिर्फ अमिताभ बच्चन को ही चुना था।

कलाकारों की सूची – List of Cast and Crew in Jhund

मुख्य कलाकारफ़िल्म में पात्रों के नाम
अमिताभ बच्चनविजय बरसे
आकाश ठोसरसंभ्या
रिंकू राजगुरु
किशोर कदम
छाया कदम
भारत गणेशपुरे
विकि कड़ीयनअभिजीत बरसे (विजय का लड़का)
तानाजी गालगुंडे
सोमनाथ अवघडे
सुरज पवार
गणेश देशमुख
अभिनव राज सिंगनविन
Star Cast under Jhund Movie Review

झुंड़ फ़िल्म की कहानी (Jhund movie story)

Jhund Movie Review मे जानेंगे इस मूवी की स्टोरी की रचना…

Herd इस अंग्रेजी शब्द का अर्थ है झुंड। यहां पर झुक्की-झोपड़ी में रहनेवाले बच्चे जिसमें से कुछ नशे का शिकार है तो कुछ मार-पिट, चोरी, चेन स्नॅचिंग के आदि होते है। एक कॉलेज मे स्पोर्ट्स सिखाने वाला प्रशिक्षक विजय इन स्लम एरिया के बच्चों को टीन के डब्बे के साथ लात मारते हुये, खेलते हुये देखता है।

यह गंदगी से घिरे बच्चे व्यावहारिक और लाक्षणिक रूप से अपनी उम्र के लिहाज से हर तरह की बुराइयों को अंजाम दे रहे हैं। इनका बेहतर जीवन जीने की आशा लंबे समय से मर चुकी है। यह बच्चे बदलना भी चाहे तो भी उनकी परिस्थिती, वहां का वातावरण तथा बाहरी दुनिया उन्हे बदलने नहीं देती और उन्हे चोर, लुटेरे और यहां तक कि संभावित हत्यारों को पैदा होने मे मजबूर करती है।

विजय जो की इस मूवी का मुख्य किरदार है, इन बच्चों को ओबजर्व कर रहा है। उन्हे कुछ ट्रिक्स कर के फुटबाल की तरफ आकर्षित करता है। धीरे धीर बच्चों का भरसों जीतते हुए फुटबाल की एक टीम खड़ी करता है। उसके कॉलेज के साथ संघर्ष, समाज के साथ संघर्ष करते हुये इस टीम के लिये क्या करता है और आखिर मे एक दिल को छु लेने वाला प्रसंग होते हुये मूवी समाप्त होती है।

इस मूवी मे नागराज मंजुले की अन्य रेकॉर्ड ब्रेक मूवी की तरह ट्विस्ट वाला एण्ड सीन भले ना हो, लेकिन यह बहुतही भावनिक दर्शाया गया है।

Jagruti Manch झुंड़ फ़िल्म का रिव्यु | Jhund Movie Review in Hindi 2022 Add a heading 4
Jhund Movie Review 1

झुंड़ फिल्म रिव्यु (Jhund movie review in hindi)

इंटरवल से पहले हर एक पात्र को शॉर्ट में लेकिन अपील होने लायक दिखाया है। नागराज मंजुले की आवाज का बहुतही अच्छा उपयोग करते हुये, स्टोरी का विवरण करना कुछ नया लेकिन सटीक प्रयोग लगता है। शुरुआत के आधे हिस्से मे हमें इन गलियों और उनके जीवन के तौर-तरीकों तक ले जाता है जो गलत चीजों की विविधताओं से भरे हुए हैं। उनके बर्बादी की सीमा ऐसी दिखाई है की, महेज 500 रुपयों के लिये वे कुछ भी करने को तैयार है।

कई सारी स्पोर्ट्स की फिल्मे आई और सुपरहिट भी हुई लेकिन यह स्पोर्ट्स मूवी होते हुये भी इसका लेखन नागराज मंजुले ने बहोत ही गहराई तक जाकर किया है। नागराज मंजुले की यह खासियत रही है की वह हमेशा से ही सामाजिक विषयों पर सुपरहिट फिल्मे देते आए है जैसे मराठी मे फैन्ड्री और सैराट। नागराज मंजुले का लेखन हम हर एक किरदार के पास लेकर जाता है, उस वातावरण का हिस्सा बनाकर मूवी का अनुभव लेने पर मजबूर करता है, कमाल का लेखन है!

झुंड़ फिल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन (Jhund movie box office collection

4 मार्च 2022 को यह फिल्म इंडिया और अन्य कुछ देशों में एक साथ रिलीज होंगी। ऐसा प्रतीत होता है कि यह मूवी बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई कर सकती है।

झुंड़ फिल्म का निष्कर्ष (Jhund movie conclusion)

नागराज मंजुले एण्ड मेगास्टार अमिताभ बच्चन सहाब का कोम्बीनेशन एक मिल का पत्थर साबित होंगी। स्वाभाविक और विश्वसनीय स्टोरी लिखनेवाले और निर्देशन करनेवाले नागराज मंजुले के साथ, नैचुरल अभिनय के लिये प्रसिद्ध अमिताभ बच्चन दोनों ने अपना कमाल दिखाया है। आकाश ठोसर अपने एक अलग अंदाज मे (एक चिकने के तौर पे) छाप छोड़ जाता है।

अजय-अतुल का बिट्स पकड़ने के लिये मजबूर करनेवाला जोशपूर्ण संगित इसके गानों से उभर कर आता है। साकेत कानेटकर का बैग्राउंड म्यूजिक सही मैच है। रिंकू राजगुरु ने सैराट के बाद अपने काम का लेवल और स्टेप उपर किया है, जो की इस फ़िल्म मे एक छोटे रोल में दिखती है, फिर भी उसका काम प्रशंसा के योग्य है।

तीन घंटे का सही उपयोग कर एक नए विषय को अलग पहलू से देखने के लिये यह मूवी मस्ट वॉच मूवी है। मूवी देखने के बाद आपके कमेंट्स इस ब्लग मे जरुर दीजिये।

अवार्ड्स् और नॉमिनेशन – Awards and Nominations For Jhund

नागराज पोपटराव मंजुले की फ़िल्म होने से इसे अवार्ड्स और नॉमिशन जरुर मिलेंगे। रिलीज के पश्चात पता चलते ही हम यहाँ अपडेट करेंगे।

झुंड़ फ़िल्म एक नज़र में (Jhund movie info)

फिल्म रिलीज की तारीख4 मार्च 2022
भाषाहिन्दी
आधारितबायोग्राफी, ड्रामा, स्पोर्ट्स
निर्देशकनागराज पोपटराव मंजुले
निर्माताभूषण कुमार, कृष्ण कुमार, राज हिरेमठ, सविता हिरेमठ, नागराज पोपटराव मंजुले, गार्गी कुलकर्णी और मीनू अरोड़ा
लेखक / स्क्रीन प्लेनागराज पोपटराव मंजुले
म्यूजिक बैग्राउंड साकेत कानेटकर
म्यूजिक गानेअजय – अतुल
प्रोडक्शन कंपनीटी-सीरीज (T-Series),
तांडव फिल्म्स एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड,
आटपाट फिल्म्स
देशभारत / इंडिया
मूवी की लंबाई2 घंटे 58 मिनट

झुंड ऑफिशियल ट्रेलर | Jhund Official Trailer

by T-Series

अन्य पढ़ें –

झुंड टीजर के लिये यहां क्लिक करें

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.